खुड़का Khudka Hindi Lyrics - Amit Saini Rohtakiya

खुड़का Khudka Hindi Lyrics – Amit Saini Rohtakiya

Haryanvi song Khudka Lyrics sung by Amit Saini Rohtakiya. Music is given by G.R.Music and Lyrics written by K.P. Kundu & Bintu Pabra. Featuring Amit Saini Rohtakiya & Anjali Raghav.

SingerAmit Saini Rohtakiya
MusicG.R.Music
Song WriterK.P. Kundu & Bintu Pabra

Khudka Lyrics

वो म्हारी गाल में पट बिजना यो
चाले ओल्हा करके ने
मोटी रे मोटी जीभ फेर तू
चाले होठों भर के ने

तेरे मीठे रे मीठे बोल पड़ा रे
जणू गोल गाजरा का

गली में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का
गाल में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का
गाल में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का

होवे सादगी श्रंगार तेरा रे रे
रूप सजाई कोना
तेरा माँ की सु मन्ने आज तलक मिली
इसी लुगाई कोना

होवे सादगी श्रंगार तेरा रे रे
रूप सजाई कोना
तेरा माँ की सु मन्ने आज तलक मिली
इसी लुगाई कोना

हो तेरे आगे फीका पड़ जा से
यो ताज आगरा का

गली में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का
गाल में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का
गाल में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का

अरे गाड़न जोगी ने के पि पिंटू
मारे सीकर दोपहरी
अरे गोरे रंग पे सूट की मैचिंग
कसर कीते ना रहरी

अरे गाड़न जोगी ने के पि पिंटू
मारे सीकर दोपहरी
अरे गोरे रंग पे सूट की मैचिंग
कसर कीते ना रहरी

तन्ने राशन पानी बंद करवाया
कईया के घरा का

गली में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का
गाल में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का
गाल में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का

हां जी सोच लो मेरे बारे में भी
अच्छा
बढ़िया तो नोकरी लागरा हूँ
हूँ

कीमे शादी सुदा के हो जा तो
सोच के बताउंगी
के हुआ

भाई अमित तेरी आच्छी
नोकरी लागरी है
तू भी उससे प्यार करे
वा भी तेरे से प्यार करे
तम दोनों शादी कर को मान्जा

गली में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का
गाल में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का
गाल में छन छन करती जावे रे
खुड़का सुने झांझर का