Bijli Ki Taar Lyrics - Uttar kumar & Kavita Joshi

बिजली की तार Bijli Ki Taar Hindi Lyrics – Uttar kumar & Kavita Joshi

Haryanvi song बिजली की तार Bijli Ki Taar Hindi Lyrics sung by Vivek Sharma, Starring Uttar kumar & Kavita Joshi. Music is given by Vivek Sharma.

SingerVivek Sharma
MusicVivek Sharma
Song WriterPawan

Bijli Ki Taar Lyrics

तेरे वाइट गाल पे डिंपल रे
मन्ने लागे बटर क्रीम सी तू
तेरे वाइट गाल पे डिंपल रे
मन्ने लागे बटर क्रीम सी तू

चाँद का नखरा फीका करके
इतनी ब्यूटी कुवीन से तू
तेरे काले केश का के कहना
नागिन जो चोटी लटके रे

बिजली की तार से छोरी तू
हाय दिल में मारे झटके रे
बिजली की तार से छोरी तू
हाय दिल में मारे झटके रे

तेरे हुसन का तोड़ नहीं
तू हुसना की रानी रे
तेरे हुसन का तोड़ नहीं
तू हुसना की रानी रे

दुआ से मेरी एक ही रब ते
तू जिंदगी में लानी रे
कोई भभूती से तेरे में
लागे सबते हटके रे

बिजली की तार से छोरी तू
हाय दिल में मारे झटके रे
बिजली की तार से छोरी तू
हाय दिल में मारे झटके रे

कीते भी जाऊ दुनिया में
पर जाना तेरे ते दूर नहीं
कीते भी जाऊ दुनिया में
पर जाना तेरे ते दूर नहीं

सारी जगह मन्ने टोह के देख ली
मिली तेरी सी हूर नहीं
पतली कमर तेरी हाले
जब पैर धरे तू डट के रे

बिजली की तार से छोरी तू
हाय दिल में मारे झटके रे
बिजली की तार से छोरी तू
हाय दिल में मारे झटके रे

छोरे ने चेहरा रे यो
सुपने में भी दिख रा से
छोरे ने चेहरा रे यो
सुपने में भी दिख रा से

पवन भी अपने गीता में रे
बोल तेरे पे लिख रा से
हो दिल की सारी बात बताऊ
बैठ जरा सा सटके रे

बिजली की तार से छोरी तू
हाय दिल में मारे झटके रे
बिजली की तार से छोरी तू
हाय दिल में मारे झटके रे